सामान्य भविष्य निधि कार्यालय

  • सभी जिला के सामान्य भविष्य निधि कार्यालय 1997 में NIC के द्वारा UNIX/Fox पर कमप्यूटरीकृत किया गया है.
  • वर्ष 2001 में NIC, GPF कमप्यूटरीकरण के लिए उन्नयन गतिविधि शुरु की.
  • SQL सर्वर डाटावेस और Visual Basic को प्रयोग कर सर्वर-क्लाइंट संरचना पर आधारित एक सॉफ्टवेयर बनाया गया.     राज्य निदेशालय में इस प्रणाली का परिचालन किया गया.
  • जी.पी.एफ. के साइट पर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के लिए NIC सर्वर में ग्राहको का डाटा रखा जाता है.
  • नई CPF कार्यक्रम की शुरुआत और कोषागार कार्यक्रम की आवश्यकता का एकीकरण मौजूद सॉफ्टवेयर में की जा रही है,    और आगे कोषागर कमप्यूटरीकरण के दौरान CPF Data प्रबंधन और कोषागर कार्यक्रम को समायोजित कर दिया जाएगा.
  • प्रमुख विशेषताएँ

    • सभी विबरण जैसे सदस्य, नामिती, प्रारंभिक राशि और अंशदान डिजिटल स्वरुप में बनाए रखता है.
    • महत्तम सुरक्षा सुविधाएँ शामिल किया गया है.
    • विभिन्न MIS रिपोर्टों के लिए प्रणाली शामिल है.
    • भुगतानकर्ता के डेटा को Web Interface के माध्यम से उचित प्रयोक्ता प्रमाणिकरण के साथ NIC सर्वर पर उपलब्ध कराया जाता है.
    • ई-कोषागार एकीकरण प्रक्रिया में है.